ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
थूकने पर पूरी तरह से प्रतिबंध
May 4, 2020 • Desk • NATIONAL

 

 

चार मई यानि आज से पूरे देश में लॉकडाउन का तीसरा चरण लागू हो चुका है। खास बात यह है कि इस दफा पूरे देश को तीन जोन में बांटा गया है और कुछ रियायतें भी दी गई हैं।  जो 17 मई तक चलेगा। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा लॉकडाउन अभी खत्म नहीं होने वाला।

बहरहाल, लॉकडाउन का यह तीसरा दौर बड़े बदलाव लेकर आया है। इस बार छोटी रियायतें दी जा रही हैं, लेकिन बड़ी बंदिशें पहले की तरह बरकरार रखी जा रही हैं। ट्रेनें, उड़ानें, स्कूल, कॉलेज, शॉपिंग मॉल और धार्मिक स्थल तो बंद ही रहेंगे, लेकिन अलग-अलग जोन के हिसाब से छूट मिलेंगी। लोग दिन में घरों से बाहर तो निकल सकेंगे, लेकिन जो लोग जरूरी सेवाओं में नहीं हैं, उनका शाम 7 से सुबह 7 बजे के बीच सड़कों पर मूवमेंट नहीं हो सकेगा। यानी बाहर जा रहे हैं तो शाम 7 बजे से पहले घर लौट आएं।


25 मार्च से चल रहे लॉकडाउन से पहले 4.2 दिन में कोरोना के मामले दोगुने हो रहे थे। अब 11 दिन में मामले दोगुने हो रहे हैं। 14 दिन पहले रिकवरी रेट 13% था। अब 25% पहुंच चुका है। यानी संकेत अच्छे हैं, लेकिन सरकार कोरोना को काबू करने में मिली इस कामयाबी को खोना नहीं चाहती। इसलिए बंदिशों को एकसाथ एक बार में हटाने की बजाय धीरे-धीरे हटा रही है। लॉकडाउन का पहला दौर 25 मार्च से 15 अप्रैल के बीच था। बाद में इसे 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया। इस बीच, 20 अप्रैल और 25 अप्रैल को दुकानों काे छूट मिली, लेकिन मॉल्स-बाजार बंद ही रहे।


बीते सोमवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। इसमें शामिल 9 में से 6 मुख्यमंत्री लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में थे। फिर शुक्रवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशभर के 733 जिलों की लिस्ट जारी की। इसमें बताया कि 130 जिले रेड जोन में, 284 जिले ऑरेंज जोन में और 319 जिले ग्रीन जोन में हैं। फिर प्रधानमंत्री की अगुआई में मंत्रियों की बैठक हुई। इसी में लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया गया। शाम को गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन कानून 2005 के तहत आदेश भी जारी कर दिए।

अंतरराष्ट्रीय और यात्री उड़ानें बंद रहेंगी। सभी यात्री ट्रेनें बंद रहेंगी। सिर्फ वे ट्रेनें चलेंगी, जिनकी गृह मंत्रालय ने इजाजत दी हो। जैसे मजदूरों के लिए कुछ राज्यों के बीच स्पेशल ट्रेनें शुरू हुई हैं। मेट्रो सेवाएं बंद रहेंगी। एक से दूसरे राज्य में सड़क से आवाजाही नहीं हो सकेगी। हालांकि, ऑरेंज जोन में कैब, टैक्सी चल सकेंगी। ग्रीन जोन में कैब, टैक्सी समेत 50% यात्रियों के साथ बसें भी चल सकेंगी। ये बंदिशें जनता कर्फ्यू के दिन से लागू हैं, 17 मई तक लागू ही रहेंगी

स्कूल, कॉलेज, एजुकेशन, ट्रेनिंग, कोचिंग इंस्टिट्यूट बंद ही रहेंगे। होटल, रेस्टोरेंट्स, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम बंद रहेंगे।  हर तरह के राजनीतिक, धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक कार्यक्रमों के आयोजन पर रोक जारी रहेगी।
धार्मिक स्थान भी बंद रहेंगे। धार्मिक मकसद से जमावड़ों पर रोक रहेगी।
जो लोग जरूरी सेवाओं में नहीं हैं, उनका शाम 7 से सुबह 7 बजे तक सड़कों पर मूवमेंट नहीं हो सकेगा।
65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों, गर्भवती महिलाओं, 10 साल से छोटे बच्चों को बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।
एक से दूसरे जिले में जाने की बिल्कुल इजाजत नहीं होगी।
अगर कोई राज्य पूरी तरह से ग्रीन जोन में है तो वहां का स्थानीय प्रशासन एक से दूसरे जिले में जाने की अनुमति दे सकता है।

शराब, पान और तंबाकू की दुकानें खुल सकेंगी, लेकिन वहां एक बार में 5 से ज्यादा लोग इकट्‌ठा नहीं हो सकेंगे और लोगों के बीच 6 फीट की दूरी बनाए रखनी हाेगी।
शॉपिंग मॉल को छोड़कर सामान बेचने वाली सभी दुकानें खुली रहेंगी। इनमें आस-पड़ोसकी दुकानें, फल, दूध, सब्जी और किराना दुकानें शामिल हैं।
कृषि और पशु पालन से जुड़ी सारी गतिविधियां होंगी।
बैंक, फाइनेंस कंपनी, इंश्योरेंस और कैपिटेल मार्केट एक्टिविटी जारी रहेंगी। आंगनबाड़ी का काम भी जारी रहेगा।
प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, आईटी सेक्टर, डेटा और कॉल सेंटर, कोल्ड स्टोरेज, प्राइवेट सिक्योरिटी सविस, मैन्युफैक्चिंगर यूनिट में ड्रग्स, फार्मा, मेडिकल डिवाइस, जूट इंडस्ट्री जारी रहेगा। लेकिन यहां सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा।

रेड  जोन में वे जिले हैं, जहां कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं और जहां नए मामलों के दोगुने होने की दर भी सबसे ज्यादा है।

ऐसे रेड जोन में साइकिल रिक्शा, ऑटो रिक्शा, टैक्सी, कैब, बसों की आवाजाही, हेयर सैलून, स्पा, शॉपिंग मॉल बंद रहेंगे।
फोर व्हीलर से बाहर जा रहे हैं तो ड्राइवर के अलावा 2 से ज्यादा लोग नहीं बैठ सकेंगे।
टू व्हीलर पर पीछे की सीट पर कोई नहीं बैठ सकेगा।
गांवों में इंडस्ट्रियल और कंस्ट्रक्शन काम हो सकेगा। मनरेगा के तहत काम की इजाजत होगी। फूड प्रोसेसिंग यूनिट्स, ईंट के भट्‌टे खुल सकेंगे।
ज्यादातर कमर्शियल और प्राइवेट संस्थान खुल सकेंगे। इनमें प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, आईटी सर्विसेस।

ऑरेंज जोन यानी वे जिले, जहां पिछले 14 दिन से कोरोना के नए मामले सामने नहीं आ रहे।
ऑरेंज जोन में टैक्सी और कैब चलाने की इजाजत होगी। हालांकि, शर्त ये होगी कि 1 ड्राइवर और 2 पैसेंजर ही उसमें बैठ पाएंगे।
एक जिले से दूसरे जिले में लोगों और गाड़ियों की आवाजाही सिर्फ उन गतिविधियों के लिए हो सकेगी, जिनकी इजाजत मिली हुई है।
फोर व्हीलर में 1 ड्राइवर और 2 पैसेंजर की इजाजत होगी।
ग्रीन जोन में क्या बदलेगा?

बसों को छूट रहेगी, लेकिन एक बस में 50% यात्री ही बैठ सकेंगे। बस डिपो में 50% कैपेसिटी के साथ काम होगा।
1 ड्राइवर और 2 पैसेंजर के साथ टैक्सी और कैब चलाने की इजाजत होगी। टू-व्हीलर पर दो लोग बैठ सकेंगे।
किसी भी कार्यक्रम के लिए अनुमति लेनी होगी। कार्यक्रम में सीमित लोग ही शामिल हो सकेंगे।
सभी तरह की गतिविधियों के लिए अनुमति होगी, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा. लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने, पान, गुटखा, तंबाकू आदि खाने की इजाजत नहीं होगी.

देश में संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है और यह आंकड़ा 41 हजार के पार जा चुका है।राजधानी दिल्ली और देश की आर्थिक की राजधानी कहे जाने वाले मुंबई में लगातार नए मामले सामने आ रहे हैं।

जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में रविवार को आतंकियों से लोहा लेते हुए दो सैन्य ऑफिसर सहित पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए। शहीद होने वाले सुरक्षाकर्मियों में कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद, लांसनायक दिनेश सिंह, नायक राजेश और जम्मू कश्मीर पुलिस केउपनिरीक्षक शकील काजी शामिल हैं। चार महीने पहले ही हुई थी शहीद मेजर अनुज सूद की शादी, परिजनों पर टूटा दुखों का पहाड. 

पिछले तीन महीने में बाहर से आए करीब 20 हजार जहाजों पर सवार चालक दल के सदस्यों और यात्रियों को भारतीय बंदरगाहों पर अब तक नहीं उतरने दिया गया है।
सख्त हुआ भारत, चीन से आने वाले 63 हजार लोगों को समुद्र में ही रोका, बंदरगाहों के पास खडे़ हैं 20 हजार जहाज 

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर ऐसा विवादित ट्वीट किया है जिस पर घमासान मचना तय है। दरअसल दिग्विजय ने एक सवालिया ट्वीट करते हुए सिख श्रद्धालुओं की तुलना तबलीगी जमात के सदस्यों से कर दी। 
पंजाब में सिख तीर्थयात्रियों को कोरोना, दिग्विजय बोले- तबलीगी मरकज से कोई तुलना?

उत्तर प्रदेश के बहराइच के मिहीपुरवा इलाके में एक 14 साल के सौम्या अग्रवाल को एक पुलिस चौकी का प्रभार दिया गया। उसे लॉकडाउन का पालन करवाने की जिम्मेदारी दी गई है।

टीवी देखने वालों के लिए खुशखबरी, d2h ग्राहकों के लिए बेहतरीन ऑफर, मात्र 1 रुपए में पाएं कई सर्विसेज

 राजस्थान में गहलोत सरकार लाई महामारी अध्यादेश 2020, बख्शे नहीं जाएंगे नियम तोड़ने वाले लोग

बहुगुणा द्वारा जिलाधिकारियों के जारी परिपत्र में कहा गया है, "कोरोना की राष्ट्रीय विपदा के दृष्टिगत जिन जिलों में कलेक्टर द्वारा मदिरा एवं भांग दुकाने खोले जाने की अनुमति दी जाएगी, वहां सोशल और पर्सनल डिस्टेंसिंग एवं अन्य बचाव उपायों का शत-प्रतिशत पालन करना होगा. कलेक्टरों से कहा गया है कि चार मई से इन दुकानों के संचालन की अनुमति देते समय भारत सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुक्रम में ग्रीन-आरेंज एवं रेड जोन के मान से ही निर्णय लिया जाए.

मध्य प्रदेश में मदिरा एवं भांग दुकानें सोमवार से खुल जाएंगी, राज्य को इन दुकानों से हर रोज 30 करोड़ के राजस्व की प्राप्ति होती रही है. इस लिहाज से राज्य को शराब व भांग दुकानों के बंद रहने से हर रोज 30 करोड़ के राजस्व का नुकसान हुआ है. राज्य में 29 मार्च से देशी और विदेशी शराब की दुकानें कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के मकसद से बंद कर दी गई थी. आबकारी आयुक्त राजेश बहुगुणा ने आईएएनएस को बताया कि राज्य का वर्ष 2020-21 में अनुमानित राजस्व प्रतिदिन 30 करोड़ रुपये थी. इसी के मुताबिक यह दुकानें बंद रहने से राजस्व की हानि हुई है.

कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए देशव्यापी बंदी का दौर जारी है. इसका पालन करने के लिए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं. जो भी नियमों को तोड़ रहा है उसके खिलाफ कार्रवाई का दौर जारी है. मध्य प्रदेश की राजधानी में 22 मार्च से शनिवार तक नियम तोड़ने वाले 2969 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किए गए हैं. आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी मे बताया गया है कि जिले में कानून-व्यवस्था और लॉकडाउन उल्लंघन के शनिवार 64 मामले दर्ज किए गए है. इन सभी के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की गई है.

कोरोना के कहर के चलते पूरा देश लॉकडाउन में है. लगभग 35 हजार लोग इस गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं. हजार से ऊपर लोगों की मौत हो चुकी है. इस महामारी से लोगों को बचाने के लिए डॉक्टर्स, नर्स और सफाईकर्मी अपना घर परिवार छोड़कर दिनरात काम कर रहे हैं. कोरोना वॉरियर्स तन-मन से लोगों की जान बचाने के लिए काम कर रहे हैं. इन्हीं कोरोना वॉरियर्स का भारतीय सेना ने सम्मान किया. भोपाल में चिरायु मेडिकल कॉलेज में सेना ने हेलिकॉप्टर से कोरोना वॉरियर्स पर फूलों की बारिश की. उन्हें सैल्यूट किया. सम्मान पाकर कोरोना वॉरियर्स की आंखें नम हो गईं. भारतीय सेना कोरोना को हराने में जुटे सभी लोगों, फ्रंटलाइन और साइलेंट तौर से काम कर रहे कोरोना योद्धाओं को सलाम कर उत्साह बढ़ाया.

देश में कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रकोप से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर (Indore) में इस महामारी से दो और मरीजों की मौत की पुष्टि की गयी है. इसके साथ ही, जिले में इस वायरस के संक्रमण के बाद दम तोड़ने वाले मरीजों की तादाद बढ़कर 76 पर पहुंच गयी है. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) प्रवीण जड़िया ने रविवार को बताया कि कोविड-19 से संक्रमित पायी गयी 55 वर्षीय महिला और 59 वर्षीय पुरुष ने शहर के अलग-अलग अस्पतालों में पिछले तीन दिन के दौरान आखिरी सांस ली. जड़िया ने बताया कि कोविड-19 संक्रमित होने के बाद दम तोड़ने वाली महिला मधुमेह और थायराइड सरीखी पुरानी बीमारियों से पीड़ित थी, जबकि पुरुष उच्च रक्तचाप और मधुमेह से पहले ही जूझ रहा था

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लगा हुआ है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है. लेकिन सैलाना के विधायक की लापरवाही ने सारी तैयारी पर पानी फेर दिया है. लॉकडाउन के दौरान बच्चों को रोकने के बजाए उनके साथ क्रिकेट खेलने पर विधायक हर्षविजय गहलोत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. 27 अप्रैल को कुंडा में विधायक का कुछ बच्चों के साथ क्रिकेट खेलने का वीडियो वायरल हो गया. जिसके बाद सैलाना एसडीएम कामिनी ठाकुर के निर्देश पर सरवन थाने पर धारा 144 के उलंघन के आरोप में केस दर्ज कर विधायक को नोटिस जारी किया. हर्षविजय सैलाना विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के विधायक हैं.

बंगाल-झारखंड सीमा पर शनिवार को अपने पति के शव के साथ एक महिला लगभग छह घंटे से अधिक समय तक फंसी रही. महिला शव लेकर दिल्ली से घर वापस जा रही थी.

बिहार में शनिवार को कोरोनावायरस के 15 नए मामले सामने आए, और इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 481 पहुंच गई है.

झारखंड के देवघर जिले में शनिवार को दो लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये, जिन्हें मिलाकर राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर अब 115 हो गयी है.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बिहार और झारखंड में सक्रिय दो नक्सली कमांडरों और सात अन्य लोगों के खिलाफ धनशोधन, फिरौती वसूलने और धन उगाही करने के संबंध में आरोपपत्र दाखिल किया है.

भागलपुर में एक राष्ट्रीय राजमार्ग पर दो ट्रकों की टक्कर में चार लोगों की मौत हो गई, जिनमें झारखंड के एक व्यक्ति और उसकी पत्नी और एक ट्रक के चालक और उसका सहायक शामिल है.

पटना मेडिकल कालेज और अस्पताल (पीएमसीएच) के आठ डॉक्टरों को अस्पताल के कोविड-19 पृथक वार्ड में काम करने से मना करने और अशांति उत्पन्न करने के लिए शनिवार को निलंबित कर दिया गया.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन को और दो हफ्तों के लिए बढ़ा दिया है, जो 4 मई से प्रभावी होगा. इस दौरान शराब और पान मसालों की बिक्री को शर्तों के साथ अनुमति दी गई है. हालांकि केंद्र की ओर से छूट के बाद भी उत्‍तर प्रदेश में शराब की दुकानें खोलने को लेकर कोई निर्णय नहीं हो पाया था. मगर आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शराब की बिक्री को सशर्त अनुमति दे दी है.

आबकारी विभाग की मात्र एकल शराब की दुकानें सुबह 10 बजे से शाम 7:00 बजे तक ही खुलेंगी. इन दुकानों को सिर्फ ऑरेंज और ग्रीन जोन में ही खोलने की अनुमति है. शराब की दुकान पर खरीद के लिए 5 से अधिक ग्राहक एक साथ नहीं खड़े नहीं हो सकते. सोशल डिस्‍टेंसिंग का भी पूर्ण रूप से पालन करना होगा.

लखनऊ. 4 मई से लागू की जाएगी नई गाइडलाइन.रेड, ग्रीन और आरेंज जोन में बांटा गया . ग्रीन जोन में खुलेगी शराब की दुकान. बिकेगी यूपी में शर्तों के साथ शराब. सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक खुलेगी दुकान. शराब की दुकान सोशल डिस्टेंसिंग के साथ खुलेगी. ग्रीन जोन में बसों का संचालन होगा . 50 फीसदी सीटों के साथ बसों का संचालन.एकल दुकानों पर यूपी में बिकेगी शराब. शहरी,ग्रामीणों दोनों क्षेत्रों में खुलेंगी दुकानें. रेड, ग्रीन व आरेंज जोन में शर्तों के साथ दुकान खुलेंगी. सभी जोन में शर्तों के साथ दुकान खुलेंगी. रेड जोन में निजी कार्यालय खुलेंगे . 33 फीसदी कार्यक्षमता के साथ खुलेंगे कार्यालय - तिवारी.ऑरेंज जोन में टैक्सी,कैब सेवाएं को अनुमति. एक ड्राइवर दो यात्रियों को अनुमति. जनपद की सीमाओं में ही चलेगी टैक्सी. रेड जोन में कार्यस्थल पर थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य. कर्मचारियों के लिए चिकित्सा बीमा अनिवार्य. गुटखा, तम्बाकू पर सख्त प्रतिबंध लगाया. रेड जोन में थूकने पर पूरी तरह से प्रतिबंध. रेड जोन में ईकामर्स गतिविधियों को अनुमति. कार्यस्थल में दो पालियों के बीच एक घंटे का अंतर।


Rise in coronavirus cases expected to stabilise anytime soon: Niti Aayog member VK Paul

58 fresh COVID-19 cases in AP; Total mounts to 1,583

COVID-19: 5 new cases in Karnataka; total rises to 606

Maha COVID-19 cases up by 678 to 12,974; death toll 548 so far

Record jump in COVID-19 deaths, cases in 24 hrs; toll rises to 1,306, total case tally 40,263

Recovery rate improved, Lockdown 3.0 to reap good results: Health Minister

17 more test positive from Delhi's Kapashera building; total 58

Delhi to enjoy all red zone relaxations: Kejriwal

2 deaths, 31 fresh cases of coronavirus in Rajasthan

27 new COVID-19 cases in Nashik; district tally rises to 360

25 BSF personnel test positive for COVID-19; total cases 42

8 new COVID-19 patients in Gautam Buddh Nagar, 7 discharged; total 167 cases

COVID-19: With 2 deaths in 3 days, toll in Indore reaches 76

IAF conducts fly-pasts across India saluting 

PM pays tributes to security personnel killed in Handwara encounter