ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
राखी का महत्त्व उन धागों में छिपी प्राचीन परंपरा में है
August 3, 2020 • DESK • NATIONAL

देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बाद अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा का कोरोना टेस्ट भी पॉजिटिव आया है। वहीं देशभर में आज रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जा रहा है। कई राज्य सरकारों ने इस अवसर पर महिलाओं को फ्री में बस यात्रा करने का तोहफा दिया है। वहीं ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस की जांच के लिए मुंबई पहुंची बिहार पुलिस की टीम का नेतृत्व करने गए आईपीएस अधिकारी बिनय तिवारी को क्वारंटीन कर दिया गया है।

चीन दुनिया के बेहतरीन उत्पादों की नकल करने में माहिर है, यह बात सभी को पता है लेकिन हालांकि वह खुद इस बात से इंकार करता रहा है लेकिन उसका फाइटर जेट जे-20 अमेरिका लड़ाकू विमान एफ-35 की कॉपी है, इसे उसने स्वीकार कर लिया है।

रक्षाबंधन का त्योहार भाई और बहनों के संबंध को और मजबूती देने के साथ प्यार से भरता है। इस दिन भाईयों की कलाई पर बांधा जाने वाला रक्षासूत्र एक पवित्र धागा मात्र नहीं होता, बल्कि इस सूत्र में प्यार और ईश्वर का आशीर्वाद समाहित होता है। इसलिए इस रक्षासूत्र को बांधने के लिए पवित्र समय और मंत्र का जाप किया जाता है।

कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए एक वैक्सीन की जरूरत है। दुनिया के कई देश दावा भी कर रहे हैं। लेकिन कहीं न कहीं कुछ हद तक सस्पेंस बना हुआ है।

सुशांत सिंह राजपूत केस में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख का कहना है कि इस विषय पर सीबीआई जांच की मांग राजनीति से प्रेरित है।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए पांच अगस्त को होने वाले भूमि पूजन में देशभर के करीब आठ हजार पवित्र स्थलों से मिट्टी, जल और रजकण का उपयोग किया जाएगा। कार्यक्रम से जुड़े लोगों का कहना है कि सामाजिक समरसता का संदेश देने के लिए देशभर से मिट्टी एवं जल का संग्रह किया जा रहा है। अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होने से पहले लोग अलग-अलग तरीके से अपनी भावनाएं जाहिर कर रहे हैं। लोगों की ये भक्ति देखते ही बनती है। ऐसे ही 2 भाई हैं जो जिन्होंने 150 से अधिक नदियों का पानी एकत्र किया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने विदेशों से आने वाले लोगों के लिए संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए, जो कि 8 अगस्त से प्रभावी होंगे। दिशा-निर्देशों के मुताबिक सभी यात्रियों को ऑनलाइन पोर्टल पर एक शपथ-पत्र देना होगा कि वे अनिवार्य रूप से 14 दिन के क्वारंटाइन में रहेंगे, जिसमें से 7 दिन के संस्थागत क्वारंटाइन का उन्हें भुगतान करना होगा और बाकी 7 दिन गृह पृथक-वास के दौरान अपने स्वास्थ्य की स्वयं निगरानी करनी होगी। मंत्रालय ने कहा कि केवल विशेष मामलों जैसे कि गर्भावस्था, परिवार में मृत्यु, गंभीर बीमारी और 10 साल अथवा उससे कम उम्र के बच्चों वाले अभिभावकों को 14 दिनों के गृह पृथक-वास की अनुमति दी जा सकती है।

अगले 24 घंटों के दौरान तटीय कर्नाटक और दक्षिणी कोंकण-गोवा क्षेत्र में अच्छी मॉनसून वर्षा के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह, केरल और उत्तरी कोंकण-गोवा में भी हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। दक्षिणी छत्तीसगढ़, दक्षिणी ओडिशा, तेलंगाना के कुछ हिस्सों, मराठवाड़ा, दक्षिण-पश्चिमी और दक्षिणी मध्य प्रदेश, दक्षिणी गुजरात, दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र, उत्तराखंड, मेघालय और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बौछारें गिरने की संभावना है। एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा भी हो सकती है। केरल के बाकी भागों, आंतरिक कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, उत्तरी छत्तीसगढ़, उत्तरी ओडिशा और गुजरात के शेष हिस्सों में हल्की वर्षा का अनुमान है। इन भागों में एक-दो स्थानों पर मध्यम वर्षा के आसार हैं। झारखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, गगनीय पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों, हरियाणा और पंजाब में छिटपुट वर्षा से अधिक की उम्मीद फिलहाल नहीं है। दिल्ली में भी बूँदाबाँदी की संभावना से इंकार नहीं कर सकते।

रक्षाबंधन का त्योहार भाई-बहन के पवित्र स्नेह का प्रतीक है । भाई-बहन के स्नेह का प्रतीक ऐसा त्योहार विश्व के किसी भी देश में नहीं मनाया जाता । श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाए जाने के कारण इसे श्रावणी नाम से भी जाना जाता है । इतिहास को देखने पर रक्षाबंधन के तीन रूप नजर आते हैं । युद्ध समय, व्यापार प्रतीक के में प्रयोग भूमि में जाते के लिए विदेशों में समुद्र यात्रा पर जाने से पहले पत्नियां, परिवार के अन्य सदस्य, ब्राह्मण आदि रक्षा सूत्र बांधकर पुरुष के सुरक्षित लौटने की कामना करते थे । इस बात के कई उदाहरण मिलते हैं । कहते हैं कि देवों तथा असुरों के मध्य भयंकर युद्ध छिड़ जाने पर इंद्र ने युद्ध भूमि में जाने से पूर्व उसकी पत्नि शची ने अपने पति की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधा था । इसका दूसरा रूप हमें उस समय देखने को मिलता है जब आश्रितों द्वारा सशक्तों की कलाई पर रक्षासूत्र बांधकर उनसे प्रण लिया जाता था कि वे उनकी रक्षा करेंगे । इसके प्रमाण गुरुकुल प्रथा में मिलते हैं । गुरुकुलों में इस दिन अध्ययन एवं अध्यापन का नववर्ष प्रारंभ होता है । इस दिन राजे-महाराजे गुरुकुलों में जाकर यज्ञ में भाग लेते हैं और वेद, ब्राह्यण एवं गौ-रक्षा का प्रण लेते हैं । तब ऋषि-महर्षि राजाओं की कलाईयों पर रक्षासूत्र बांधते थे । सिकन्दर एवं पोरस कें मध्य युद्ध में सिकन्दर की प्रेमिका ने पोरस की कलाई पर राखी बांधकर अपने प्रेमी. की प्राण रक्षा का वचन लिया था । यही कारण है कि सिकन्दर वध के बार-बार अवसर मिलने पर भी पोरस ने सिकन्दर का वध नहीं किया । संभवत : राखी बांधने के कारण मुंहबोली बहन के सुहाग की रक्षा के लिए ऐसा किया होगा । इसी प्रकार जब बहादुर शाह ने मेवाड़ पर आक्रमण किया तो चित्तौड़ की महारानी कर्मवती ने मुगल शासक हुमायूँ को राखी भेजी थी तथा हुमायूँ ने कर्मवती की रक्षा भी की थी । राखी के धागे में इतनी शक्ति है कि एक विधर्मी भी उससे प्रभावित हुए बिना न रह सका । रक्षाबंधन का त्योहार भाई-बहन के संबंध को और भी मधुर एवं प्रगाढ़ बना देता है । इस दिन बहनें अपने भाई के हाथ में राखी बांधकर उनसे अपनी रक्षा का व्रत लेती हैं तथा भाई की दीर्घायु की कामना करती हैं । भाई बहन की रक्षा का वचन देता है । आजकल भाई अपनी सामर्थ्य अनुसार बहन को उपहार भी देता है । राखी से कुछ दिन पहले ही बाजार राखियों, उपहारों एवं मिठाईयों से सजे होते हैं । इसका प्रारंभिक रूप मौली का धागा है । आश्रितों की रक्षा से होता हुआ आज यह त्योहार विशेषकर भाई द्वारा बहन की रक्षा के भाव तक सीमित होकर रह गया है । इस परिवर्तन का कारण समकालीन राजनैतिक परिस्थितियां थीं जिसमें बहन की रक्षा करना भाई का उत्तरदायित्व हो गया । प्राचीनकाल में वैसे तो .स्त्रियां तलवारबाजी, घुड़सवारी आदि में प्रवीण थी तथा अपनी रक्षा स्वयं कर सकती थी परंतु आपत्ति के समय रक्षा सूत्र बांधकर भाईयों की सहायता भी लेती थी । राखी का महत्त्व उसकी सुन्दरता में नहीं बल्कि उन धागों में छिपी प्राचीन परंपरा एवं भाई-बहन के प्यार की पवित्र भावना में है ।

Death toll in Punjab spurious liquor tragedy rises to 98

Delhi records 961 fresh coronavirus infections, death toll mounts to 4,004

Bihar police looking for Rajput s flatmate Pithani, city SP leaves for Mumbai: IG Patna

Sonia Gandhi discharged from Ganga Ram hospital

COVID-19 recovery rate rises to 65.44 pc, case fatality rate drops further to 2.13 pc

Bihar Police to probe suicide of Rajput's former manager

Rahul wishes Shah speedy recovery

Vinay Tiwari: Bihar's 'Singham' in Mumbai to probe Sushant case

TN governor Purohit tests positive for COVID-19; Advised home isolation

NIA arrests six more people and conducts searches at 6 places in Kerala gold smuggling case

Advani, Joshi invited to Ayodhya Bhoomi Pujan: Ram Mandir Trust

Home Minister Amit Shah says he has tested positive for coronavirus

Amitabh Bachchan tests negative for COVID-19, discharged from hospital

FPIs net buyers for 2nd month in Jul; invest Rs 3,301 cr