ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
'परिवार के मोह' से ऊपर उठें कांग्रेस अध्‍यक्ष- पत्र
September 7, 2020 • DESK • NATIONAL

दुनिया के कई देशों में कोरोना कहर बरपा रहा है। दुनियाभर में मौत का आंकड़ा 9 लाख के करीब पहुंच गया है। पूरी दुनिया में करीब पौने तीन करोड़ लोग कोरोनावायरस की चपेट में आ चुके हैं। कोरोना महामारी से करीब 1 करोड़ 93 लाख लोग स्वस्थ भी हुए हैं। कोरोनावायरस से जुड़ा हर अपडेट . ब्राजील में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण के 14,500 से अधिक नए मामले सामने आए हैं वहीं इस दौरान 447 मौतें हुई हैं। स्वास्थ्य मंत्रलाय ने बताया कि ब्राजील में कोरोना वायरस संक्रमण की संख्या 14,521 नए मामले आने के साथ 4,137,521 हो गई है। ब्राजील में कोरोना से हुई कुल मौतों का आंकड़ा बढ़कर 126,650 हो गया है। यहां अबतक 33 लाख से अधिक कोरोना के मरीज संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। ब्रिटेन में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण के 2988 नए मामले सामने आए हैं जोकि 22 मई को आए 3,287 मामलों के बाद अबतक की सर्वाधिक दैनिक वृद्धि दर्ज की गई है। स्वास्थ्य और सामाजिक देखभाल विभाग ने बताया कि कोरोना वायरस से कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 347,152 हो गई है जबकि इस महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 41,551 पहुंच गई है। ब्रिटेन के राजनीतिक गलियारों में रविवार को प्रकाशित हुई आधिकारिक रिपोर्ट ने हलचल मचा दी जिसके मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने स्वीकार किया कि “कोरोना के बढ़ते मामले, चितां का विषय हैं।”हैनकॉक ने कहा कि अधिकांश नए मामले युवाओं में पाए गए हैं और ऐसे में उनसे गुजारिश है कि वे अपने घर के बड़े बुजुर्गों को यह संक्रमण फैलने न दे।

राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी आज राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर राज्यपालों के सम्मेलन को करेंगे संबोधित.

सरकारी कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) के निजीकरण के बाद भी उसके LPG सिलेंडर पर ग्राहकों को पहले की तरह सब्सिडी मिलती रहेगी। सरकार ने कंपनी के संभावित खरीदारों को स्पष्ट कर दिया है कि कंपनी का प्रबंधन भले बदल जाए, लेकिन उसकी वर्तमान व्यवस्था में कोई बदलाव नहीं होगा।

एलएसी पर चुशूल सब-सेक्टर में चीनी और भारतीय सैनिक एक-दूसरे के बेहद करीब डटे। कई जगहों पर बमुश्किल 800 मीटर की दूरी। छोटे हथियारों की रेंज में आए सैनिक। वहीं अरुणाचल से अगवा 5 भारतीयों के मामले में चीनी सेना से किया गया संपर्क।

 दुनिया के नंबर वन टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच को अमेरिकी ओपन से बाहर किया गया। मैच के दौरान अचानक उन्होंने एक लाइन जज पर दे मारी बॉल। इस बीच भारत के रोहन बोपन्ना कनाडा के अपने पार्टनर के साथ क्वॉर्टर फाइनल में पहुंचे।

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा मुंबई पर दिए गए बयान के बाद से ही हंगामा मचा हुआ है। विभिन्न राजनीतिक दलों के लोगों ने उनके बयान की आलोचना की है लेकिन शिवसेना इस मामले में कहीं आगे चली गई है। कंगना को सुरक्षा प्रदान करेगी हिमाचल सरकार, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान​

केंद्र सरकार यह प्रस्ताव लेकर आई है कि लॉकडाउन के दौरान बुक किए गए टिकटों के लिए एयरलाइनों द्वारा 15 दिनों के भीतर पूरी राशि वापस दी जानी चाहिए, और यदि कोई एयरलाइन वित्तीय संकट में है और ऐसा करने में असमर्थ है तो उसे 31 मार्च, 2021 तक यात्रियों की पसंद की यात्रा क्रेडिट शेल प्रदान किया जाना चाहिए।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है जहां कथित भूमि विवाद के चलते तीन बार विधायक रहे निर्वेंद्र कुमार मिश्रा की हत्या कर दी गई।

केरल में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है यहां एक 19 साल की कोरोना मरीज  को हैवानों ने नहीं बख्शा और उसके साथ रेप  किया गया। ये शर्मनाक घटना केरल  के पटनमिट्टा में सामने आई है

कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी से पत्र में कहा गया है कि वह 'परिवार के मोह' से ऊपर उठें। इसमें पार्टी महासचिव व यूपी मामलों की प्रभारी प्रियंका गांधी पर भी निशाना साधा गया है। 'महज इतिहास का हिस्‍सा बनकर न रह जाए पार्टी', कांग्रेस में सामने आया एक और 'लेटर बम'. कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों की तैयारियों में जुट गई है। पार्टी ने उत्तर प्रदेश में अपनी साख मजबूत करने के लिए राज्य के लिए 7 समितियों की घोषणा की गई है। कांग्रेस पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपालने रविवार को बयान जारी कर इन समितियों की घोषणा की। हैरानी की बात है इन समितियों में कांग्रेस के " असहमत" नेताओं को जगह नहीं दिया गया है। नई समितियों में यूपी के लिए घोषणापत्र समिति, संपर्क समिति , सदस्यता समिति, कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति, प्रशिक्षण एवं कैडर विकास समिति, पंचायती राज चुनाव समिति ,मीडिया और संचार परामर्श समिति का गठन किया गया है, जिसमें कांग्रेस में संगठनमात्मक बदलाव की मांग करने वाले कांग्रेस नेताओं को शामिल नहीं किया गया है। यूपी चुनाव समितियों में पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद और कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में शामिल राज बब्बर किसी भी समिति में शामिल नहीं किया गया है। वहीं सलमान खुर्शीद को अहम जिम्मेदारी दी गई है। सलमान खुर्शीद के संग पीएल पुनिया को यूपी चुनाव के लिए घोषणापत्र में जगह दी गई है। सलमान खुर्शीद दो साल बाद होने वाले यूपी चुनाव के लिए पार्टी का घोषणापत्र तैयार करेंगे। सलमाव खुर्शीद गांधी परिवार के बेहद करीबी माने जाते हैं, पार्टी ने उन्हें मौका दिया है। इतना ही नहीं सलमान खुर्शीद ने 23 पार्टी नेताओं के असंतोष और पार्टी में नेतृत्व के बदलाव की मांग की आवाज उठने के बाद गांधी परिवार का समर्थन करते हुए कहा था कि यह आम सहमति का समय है न कि चुनाव का। वहीं पार्टी ने लेटर विवाद में पत्र का समर्थन करने वाले नेताओं के खिलाफ बोलने वाले निर्मल खत्री, नसीब पठान दोनों को यूपी पोल समिती में जगह दी है।

डेंगू के खिलाफ दिल्ली सरकार ने लगातार दूसरे साल '10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट' अभियान शुरू किया है। अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं ने इस अभियान के तहत अपने-अपने घरों में सफाई की।

यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने चाइना के ख‍िलौना कारोबार की कमर तोड़ने का पूरा इंतजार कर द‍िया है। यूपी सरकार 6 सौ करोड़ की लागत से ग्रेटर नोएडा में देश की पहली इंटरनेशनल टॉय सिटी बनाने जा रही है।

देश के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में पहली तिमाही में करीब एक-चौथाई की भारी गिरावट आने के सवाल पर पूर्व वित्त सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा है कि यह नुकसान देशव्यापी लॉकडाउन लगाने की रणनीति सही नहीं होने के कारण हुआ है। उनका आकलन है कि अर्थव्यवस्था को चालू वित्त वर्ष में 20 लाख करोड़ रुपए की क्षति हो सकती है। गर्ग ने कहा कि लॉकडाउन से कोरोना वायरस महामारी का प्रसार शुरू में धीमा जरूर पड़ा लेकिन अर्थव्यवस्था को इससे कहीं ज्यादा नुकसान हुआ। गर्ग का मानना है कि आर्थिक हालात कहीं जाकर चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च 2021) तक ही सामान्य हो सकेंगे, तब तक देश के जीडीपी को कोविड-19 और उससे जनित प्रभावों से कुल 10-11 प्रतिशत यानी करीब 20 लाख करोड़ रुपए की क्षति हो चुकी होगी। पूर्व प्रशासनिक अधिकारी ने अर्थव्यवस्था से जुड़े मुद्दों पर खास बातचीत में सुझाव दिया कि आत्मनिर्भर भारत पैकेज में सुधार कर इसका लाभ ज्यादा से ज्यादा सूक्ष्म और छोटे उद्यमों तक पहुंचाने तथा बेरोजगार हुए मजदूरों की विशेष सहायता करने में किया जाना चाहिए। साथ ही बुनियादी ढांचा क्षेत्र में सरकारी निवेश बढ़ाए जाने की रणनीति पर भी काम करने की जरूरत है।गर्ग ने कहा, जब लॉकडाउन लगाया गया उस समय देश में वायरस की शुरुआत ही हो रही थी। लॉकडाउन से उस समय इसका प्रसार धीमा हुआ, ज्यादा तेजी से नहीं फैला, लेकिन इस दौरान देश की स्थिति को देखते हुए अर्थव्यवस्था को नुकसान ज्यादा हुआ है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन हटने के बाद वायरस फैलने की गति बढ़ी है। पर बेहतर होता कि अर्थव्यवस्था से समझौता किए बिना महामारी पर अंकुश लगाने के प्रयास किए जाते। जीडीपी में गिरावट आने का मतलब है सबकी आय में कमी। आमदनी घटने से खर्च कम होता है और आर्थिक गतिविधियों का नुकसान होता है। वर्ष 2020- 21 के बजट पत्रों में इससे पिछले वित्त वर्ष (2019-20) में देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 2,04,42,233 करोड़ रुपए रहने का संशोधित अनुमान लगाया गया है। वर्ष 1983 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी गर्ग मार्च से जुलाई 2019 तक ही वित्त सचिव रहे। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के जुलाई 2019 में पेश पहले पूर्ण बजट में ‘सावरेन बांड के प्रस्ताव को लेकर वह चर्चा में आए। इस मुद्दे पर सरकार की किरकिरी होने पर उन्हें वित्त मंत्रालय से हटाकर बिजली मंत्रालय में भेज दिया गया, जिसके बाद उन्होंने स्वैच्छिक सेवानिवृति ले ली। नोटबंदी का अर्थव्यवस्था पर अभी भी असर बने रहने के सवाल पर गर्ग ने कहा, मुझे नहीं लगता कि नोटबंदी का असर अभी भी बना हुआ है। नोटबंदी का असर अस्थायी रहा। अर्थव्यवस्था में अनौपचारिक गतिविधियों का बड़ा हिस्सा था। इसमें ज्यादातर भुगतान नकद में होता रहा है। करीब 25 से 30 प्रतिशत अनौपचारिक अर्थव्यवस्था पर नोटबंदी का भारी असर पड़ा। लेकिन इसका एक असर यह भी हुआ कि असंगठित क्षेत्र का काफी कारोबार संगठित क्षेत्र में होने लगा और उनमें लेनदेन औपचारिक प्रणाली में परिवर्तित हुआ। इस प्रकार नोटबंदी का असर अस्थायी ही रहा है। नोटबंदी के बाद के वर्षों में आर्थिक वृद्धि में सुधार आया है।

अगले 24 घंटों के दौरान केरल में कई स्थानों पर मूलाधार वर्षा होने की संभावना है। इसके अलावा दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु के आंतरिक क्षेत्रों, दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र, दक्षिणी कोंकण-गोवा और मराठवाड़ा तथा पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में भी मध्यम से भारी मॉनसून वर्षा होने की संभावना है।छत्तीसगढ़, ओडिशा, बिहार, झारखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, गुजरात के सौराष्ट्र और पूर्वी क्षेत्रों, तथा उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में कहीं-कहीं गरज के साथ हल्की बौछारें गिर सकती हैं।दिल्ली-एनसीआर समेत देश के बाकी हिस्सों में मॉनसून की सुस्ती और तापमान में वृद्धि देखने को मिलेगी।

Defence Minister Rajnath Singh discusses bilateral ties, regional security with Iranian counterpart

GST second major attack on India''s unorganised economy: Rahul Gandhi

President, PM to address Governors' Conference on NEP

Congress' Rajya Sabha MP Deepender Hooda tests COVID-19 positive

ICG pollution response ship joins firefighting onboard oil tanker off Lankan coast

Rhea grilled by NCB for 6 hours, may be questioned Monday too

Nirav Modi extradition trial to resume in UK court on Sept 7

'Dawood's man' calls up Maha CM's house, security scaled up

Will think apology if Kangana says sorry to Maha: Sanjay Raut

Kangana to Sanjay Raut: I have complete freedom of expression

Oppn planning joint offensive against govt in Parliament

Sushant's personal staff member Sawant remanded in NCB custody

Delhi Metro resumption: CISF outlines airport-like 'touch-free' security check for commuters