ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
नागरिकता संशोधन विधेयक लोकसभा से पारित
December 10, 2019 • Desk • NATIONAL

 नागरिकता संशोधन विधेयक लोकसभा से पारित हो गया है, जिसे अब राज्‍यसभा में पेश किया जाना है। लोकसभा में इस पर लंबी चर्चा हुई, जिस दौरान सत्‍तापक्ष और विपक्ष की ओर से अपने-अपने तर्क रखे गए। गृह मंत्री अमित शाह ने सदन में तकरीबन एक घंटे तक सभी सवालों के जवाब दिए और सरकार का पक्ष स्‍पष्‍ट किया। 

लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह के आक्रामक तेवर देखने को मिले, जिन्‍होंने सदन में इस विधेयक का विरोध करने वाली पार्टियों और इसके नेताओं को आड़े हाथों लिया। गृह मंत्री ने  इस विधेयक को भारत के धर्मनिरपेक्ष मूल्‍यों के खिलाफ करार देते हुए इसका विरोध करने वाली कांग्रेस को आड़े हाथों लिया तो तृणमूल कांग्रेस को भी करारा जवाब दिया। अमित शाह का कांग्रेस पर वार, एक तरफ शिवसेना दूसरी तरफ मुस्लिम लीग, क्‍या यही है आपकी धर्मनिरपेक्षता?

      नागरिकता संशोधन विधेयक लोकसभा से पारित हो गया है, जिसे अब राज्यसभा में पेश किया जाना है। लोकसभा में इस पर करीब 7 घंटे तक चली लंबी बहस के दौरान सत्‍ता पक्ष और प्रति पक्ष के बीच तीखी नोंकझोंक देखने को मिली। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इसे देश को बांटने वाला विधेयक करार दिया तो इसमें संशोधन के सुझाव भी दिए, पर ये सभी एक-एक कर गिर गए।

नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव के लिए ओवैसी ने दिए 3 सुझाव, लोकसभा ने नकारा. विपक्ष के भारी विरोध के बीच नागरिकता संशोधन बिल सोमवार को लोकसभा में पेश किया गया। गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में बिल को पेश किया। विधेयक को पेश किए जाने के लिए विपक्ष की मांग पर मतदान करवाया गया और सदन ने 82 के मुकाबले 293 मतों से इस विधेयक को पेश करने की स्वीकृति दे दी। इसके बाद बिल पर चर्चा हुई। बिल पर 6 से 7 घंटे तक चर्चा हुई। देर रात तक लोकसभा की कार्यवाही चली। लंबी बहस के बाद लोकसभा से पारित नागरिकता संशोधन बिल, देर रात तक चली कार्यवाही.

नागरिकता संशोधन बिल (Citizen Amendment Bill) को गृहमंत्री अमित शाह ने विपक्षियों के विरोध के बावजूद लोकसभा में सोमवार पेश किया और उसे पास कराया गया। इस पर करीब सात घंटे लंबी बहस चली।इससे पहले, भारतीय जनता पार्टी की तरफ से अपने सासदों को व्हीप भी जारी किया था। नागरिक संशोधन बिल कानून बन जाता है तो पड़ोसी देश पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक उत्पीड़न के चलते आए हिन्दू, सिख, ईसाई, पारसी, जैन और बौद्ध धर्म को लोगों को सीएबी के तहत भारतीय नागरिकता मिल जाएगी।

1-नागरिक संशोधन बिल अगर कानून का रूप ले लेता जाता है तो पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक उत्पीड़न के कारण वहां से भागकर आए हिंदू, ईसाई, सिख, पारसी, जैन और बौद्ध धर्म को मानने वाले लोगों को CAB के तहत भारत की नागरिकता दी जाएगी।

2-नागरिकता संशोधन बिल के चलते जो विरोध की आवाज उठ रही है उसकी वजह ये है कि इस बिल के प्रावधान के मुताबिक पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले मुसलमानों को भारत की नागरिकता नहीं दी जाएगी। कांग्रेस समेत कई पार्टियां इसी आधार पर बिल का विरोध कर रही हैं।

3-देश के पूर्वोत्तर राज्यों में इस विधेयक का विरोध किया जा रहा है, और उनकी चिंता है कि पिछले कुछ दशकों में बांग्लादेश से बड़ी तादाद में आए हिन्दुओं को नागरिकता प्रदान की जा सकती है।

4-BJP की सहयोगी असम गण परिषद (AGP) ने वर्ष 2016 में लोकसभा में पारित किए जाते वक्त बिल का विरोध किया था, और सत्तासीन गठबंधन से अलग भी हो गई थी, लेकिन जब यह विधेयक निष्प्रभावी हो गया, AGP गठबंधन में लौट आई थी

5-माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि संसद में नागरिकता (संशोधन) विधेयक पेश किए जाने पर पार्टी इसमें दो संशोधन लाएगी क्योंकि वह विधेयक के मौजूदा स्वरूप का विरोध करती है. येचुरी ने कहा कि पार्टी दो संशोधन ला कर उन सभी शर्तों को हटाने की मांग करेगी, जो धर्म को नागरिकता प्रदान करने का आधार बनाते हैं.

6- असम में नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) के खिलाफ विभिन्न प्रकार से विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं जिनमें नग्न होकर प्रदर्शन करना और तलवार लेकर प्रदर्शन करना भी शामिल है।

7- मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के चबुआ स्थित निवास और गुवाहाटी में वित्त मंत्री हिमंत बिस्व सरमा के घर के बाहर सीएबी विरोधी पोस्टर चिपकाए गए।

8-एनडीए की सहयोगी रही शिवसेना जो अब कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार चला रही है, इस बिल का समर्थन कर रही है। 

9-कांग्रेस-एनसीपी समेत कुछ विपक्षी पार्टियां इस बिल का विरोध कर रही है। विपक्षी पार्टियों को कहना कि धर्म के आधार पर देश को बांटने की कोशिश है।

10- शिवसेना के सांसद संजय राउत का कहना है कि महाराष्ट्र में सरकार अपनी जगह और देश के प्रति कमिटमेंट एक जगह है। इसलिए हम लोग इस बिल का समर्थन करेंगे।

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली से सटे हरियाणा के हिसार में एक हैरान करने वाला वाकया सामने आया है, जिसमें एक प्राइवेट स्‍कूल के 7 मासूमों को परीक्षा में बेहतर अंक नहीं लाने पर मानवता को शर्मसार करने वाली सजा दी गई। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है, पर स्‍कूल का यह रवैया हमारी पूरी शिक्षा व्‍यवस्‍था पर भी सवाल खड़े करता है।

 

मथुरा। यमुना एक्सप्रेस वे पर सड़क हादसा. हादसे में 18 लोग हुए घायल हो गए. बस में करीब 50 लोग सवार थे. आगरा से दिल्ली जाते वक्त अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराई प्राईवेट बस. चालक को नींद लगने के चलते हादसे की आशंका. घायलों को इलाज के लिए भेजा अस्पताल. थाना जमुनापार इलाके के यमुना एक्सप्रेसवे के माइलस्टोन संख्या 108 की घटना.

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में प्याज़ की चोरी. 3 बोरी प्याज़, 2 बोरी लहसुन्नन चोरी. आलमबाग के मवैया में प्याज की दुकान में चोरी की वारदात सामने आई है. दुकानदार वीरेंद्र कुमार साहू की दुकान की जाली काट कर चोरों ने चुराया 150 किलो प्याज़. 2 बोरा लहसुन भी चोरी, 1 हज़ार रुपये भी चोरी. महंगी प्याज़ चोरी होने से दुकानदार परेशान, चौकी पर दी तहरीर.

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र का पांचवा दिन आज. सदन में आज दो विधेयक पारित होंगे. दंड प्रक्रिया संहिता (उत्तराखंड संशोधन) विधेयक 2019 को कराया जाएगा पारित. उत्तराखंड चारधाम श्राइन प्रबंधन विधेयक-2019 को भी कराया जाएगा पारित. सदन में चारधाम श्राइन बोर्ड को लेकर विपक्ष करेगा .

वाराणसी। बीएचयू के धर्म विज्ञान संकाय की सेमेस्टर परीक्षा स्थगित हो गई है. विरोध के चलते परीक्षा फिर स्थगित. डा फिरोज की नियुक्ति को लेकर छात्र धरना दे रहे हैं. कल से आमरण अनशन के साथ परीक्षा बहिष्कार का ऐलान किया गया है. आज से होनी थी सेमेस्टर परीक्षा, जो फिलहाल स्थगित हो गई है. 

सुपौल: राघोपुर थाना क्षेत्र के हुलास गांव में पुलिस और अपराधी के बीच मुठभेड़ हुई. पूर्व मुखिया कैलाश प्रसाद यादव सहित दर्जनों प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान दो अपराधियों को गोली लगी है. दर्जनों राउंड गोलियां चलीं. हथियार के साथ खदेड़ कर चार अपराधी को पुलिस ने पकड़ा. घटना स्थल पर कई जूते-चप्पल और शराब की खाली बोतल बरामद.

 इतिहास (History) से अच्छा शिक्षक कोई दूसरा हो ही नहीं सकता. इतिहास सिर्फ अपने में घटनाओं को नहीं समेटे होता है बल्कि इन घटनाओं से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हैं. इसी कड़ी में जानेंगे आज 10 दिसंबर को देश-दुनिया में क्या हुआ था, कौन सी बड़ी घटनाएं घटी थीं जिसने इतिहास के पन्नों पर अपना प्रभाव छोड़ा. जानेंगे, आज के दिन जन्में खास व्यक्तियों के बारे में और बात करेंगे उनकी जो दुनिया से इस दिन विदा होकर चले गए.

 

1799- मीट्रिक सिस्टम अपनाने वाला फ्रांस दुनिया का पहला देश बना.

1902- तस्मानिया में महिलाओं को वोट देने का अधिकार प्रदान किया गया.

1903- पियरे क्यूरी और मैरी क्यूरी को भौतिक विज्ञानके लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

1950- आज के दिन को मानव अधिकार दिवस घोषित किया. इसका मकसद दुनिया भर के लोगों का ध्यान मानवाधिकार की ओर खींचना, ताकि हर देश और समुदाय में सभी को एक नजर से देखा जाए.

1960- नोबेल पुरस्कार से सम्मानित प्रतिबंधित अफ्रीकी नेशनल कांग्रेस के नेता अल्बर्ट लूथली ने दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद समाप्त करने की अपील की थी.

1992- गुजरात में देश की पहली होवरक्राफ्ट सेवा शुरू हुई.

1994- यासिर अराफात, वित्जाक राबिन एवं शिमोन पेरेज संयुक्त रूप से नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित.

ये भी पढ़ें: वास्तु शास्त्र: खुशहाल और समृद्ध जीवन के लिए घर में लगाएं ये पौधे, दूर हो जाएगी हर समस्या

1998- अमर्त्य सेन को स्टॉकहोम में अर्थशास्त्र के लिए 1998 का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया.

2000- नवाज़ शरीफ़ सहपरिवार पाकिस्तान से दस साल के लिए निर्वासित.

2001- भारतीय सिनेमा के दिग्‍गज कलाकारों में शुमार दादा मुनि ने दुनिया को अलविदा कहा था.

2002- अमेरिका की दूसरी सबसे बड़ी वायुसेवा कंपनी यूनाइटेड एयरलाइंस दिवालिया घोषित.

2004-  ढाका टेस्ट में कपिल देव को पीछे छोड़ते हुए अनिल कुम्बले टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले पहले भारतीय बने.

10 दिसंबर को जन्मे व्यक्ति – Famous people Birthdays list of 10th December

प्रसिद्ध इतिहासकार यदुनाथ सरकार का जन्म 1870 में हुआ.
वकील, लेखक, राजनीतिज्ञ और दार्शनिक चक्रवर्ती राजगोपालाचारी का जन्म 1878 में हुआ.
भारत के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी, पत्रकार और शिक्षाविद मोहम्मद अली का जन्म 1878 में हुआ.
स्वतन्त्रता सेनानी प्रफुल्लचंद चाकी का जन्म 1888 में हुआ.
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष एस. निजलिंगप्पा का जन्म 1902 में हुआ.
पद्म भूषण से सम्मानित भारतीय पुरातत्व वैज्ञानिक हंसमुख धीरजलाल सांकलिया का जन्म 1908 में हुआ.
भारतीय कवि और ब्लॉगर मानस मादरेचा का जन्म 1996 में हुआ.
और पढ़ें: घर में अखंड ज्योति जलाने से बरसती है मां भगवती की कृपा, लेकिन बरतें ये सावधानियां

10 दिसंबर को हुए निधन – Famous people died on 10th December

औरंगज़ेब के दरबार का एक प्रभावशाली सामंत यशवंतसिंह का निधन 1679 में हुआ.
नोबेल प्राइज के फाउंडर अल्‍फ्रेड बर्नहार्ड नोबेल का निधन 1896 में आज ही के दिन हुआ था.
मैसूर (कर्नाटक) के प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ, राजनीयक और विद्वान पणीक्कर, के. एम. का निधन 1963 में आज ही के दिन हुआ था.
स्वतंत्रता सेनानी और प्रसिद्ध नेता चौधरी दिगम्बर सिंह का निधन 1995 में आज ही के दिन हुआ था.
भारतीय अभिनेता अशोक कुमार का निधन 2001 में आज ही के दिन हुआ था.

 

Petrol price soars to Rs 75/L, diesel crosses `66 mark

Petrol price on Monday hit Rs 75 a litre mark for the first time in more than a year as oil firms raised rates to make up for rising cost of production. Petrol price was on Monday hiked by 5 paise per litre and diesel by 10 paise a litre, according...

Russia banned from global sports for 4 yrs

3D laser tech used to recreate Delhi inferno scene

BJP sweeps K'taka bypolls, BSY gains majority in House

LS clears CAB amid pitched battle

PM Boris vows to back Modi, visits UK temple

Unnao rape-murder victim laid to rest at her village

Family members' inconsolable wails fill air in mortuary