ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
कोरोना वायरस से बढ़ते मामलों के बीच राहत की खबर
April 19, 2020 • Desk • International

 

कोरोना वायरस से बढ़ते मामलों के बीच राहत की खबर ये है कि लगातार लोग ठीक भी हो रहे हैं। अब तक 2000 से ज्यादा लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। वहीं देश में अब तक संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 14 हजार सात सौ को पार कर चुका है। राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन जारी है और साथ ही सरकार की ओर से महामारी के नियंत्रण के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं। 

जम्‍मू-कश्‍मीर के बारामूला जिले में आतंकियों ने सीआरपीएफ और पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया, जिसमें तीन जवान शहीद हो गए, जबकि दो अन्‍य शहीद हो गए।

पाकिस्‍तान में करतापुर गुरुद्वारे को नवंबर 2019 में ही बनाया गया था, लेकिन आंधी-तूफान के कारण इसकी मीनारों को नुकसान पहुंचा है और 8 गुंबद टूट गए हैं। सिखों के पव‍ित्र स्‍थल के तौर पर चिन्हित गुरुद्वारे की मीनारों को शुक्रवार को यहां आए तेज आंधी-तूफान से नुकसान पहुंचा।

दिल्ली के नेब सराय इलाके में एक डॉक्टर ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली है। सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक प्रकाश जरवाल को इसके लिए जिम्मेदार बताया गया है।

कोरोना के खिलाफ इस जंग में दुनिया के सभी देश समन्वित प्रयासों को बढ़ावा दे रहे हैं। भारत ने अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी सहित दुनिया के कई देशों में हाइड्रोक्‍लोरोक्‍सोक्‍वीन दवा भेजी है, जिसे इस घातक संक्रमण के उपचार में मददगार माना जा रहा है। दुनियाभर के देशों ने भारत के इस कदम की सराहना करते हुए आभार जताया है, जो खुद भी संक्रमण से जूझ रहा है। इस बीच स्विट्जरलैंड ने अनूठे तरीके से भारत के साथ एकजुटता दर्शाई है। 

बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख मायावती ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के उस कदम की तारीफ की है, जिसमें राजस्थान के कोटा में फंसे राज्य के छात्रों को वापस लाने के लिए बसें भेजने का फैसला किया। 

सोशल डिस्टेंसिंग न रखने का खतरनाक नतीजा, मां ने अपने ही 17 बच्चों को दे दिया कोरोना!

दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच इसके लिए चीन के वेट मार्केट्स को दोषी माना जा रहा है और इसके खिलाफ अवाजें भी उठ रही हैं।

उत्तर प्रदेश में कैंट थाना क्षेत्र का सदर इलाका सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बन गया है. लखनऊ में जहां कोरोना संक्रमित की संख्या 160 के पास है, तो वही यहां यह संख्या 90 से 100 के बीच पहुच गई है

शहरी और ग्रामीण इलाकों में छूटे हुए निराश्रित पात्र लोगों का युद्धस्तर पर चिन्हित करते हुए 1 हजार रुपये का भरण-पोषण भत्ता दिया जाए: मुख्यमंत्री

निराश्रित लोगों को 1 हज़ार रुपये देने का निर्देश मुख्यमंत्री ने दिया है. 23 लाख 70 हज़ार से अधिक श्रमिकों को 236 करोड़ 98 लाख रुपये सरकार ने अपने श्रोत से बांटा है. PPE और मास्क की 70 इकाइयों को क्रियाशील कर दिया है.

संयुक्त सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि प्रयागराज, बरेली, समेत कई जिले कोरोना मुक्त हुए हैं. UP में कोरोना के फैलने की रफ्तार आबादी के लिहाज से कम है. नेशनल एवरेज से भी कम है.

लोक भवन मे team 11 की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को श्रमिकों की समस्याओं का समाधान करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में लॉक डाउन के बाद श्रमिकों की समस्याओं को देखते हुए सरकार की ओर से निजी क्षेत्र की औद्योगिक इकाइयों को अपने यहां कार्य करने वाले कर्मचारियों और श्रमिकों के वेतन पारिश्रमिक भुगतान का निर्देश दिया था

Lucknow के जानकीपुरम इलाके में सेनिटाइजर युक्त केमिकल का छिड़काव करते कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना और विधायक नीरज बोरा.

मुख्यमंत्री ने मुज़फ़्फ़रनगर में आकाशीय बिजली गिरने से हुई घटना पर दुख जताया है. पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए प्रशासन को तत्काल हरसंभव मदद पहुंचाने के दिए निर्देश.

छात्रों को बसों में बैठाने से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग होगी. इसके बाद उन्हें मास्क देकर बसों में बैठाया जाएगा. किसी भी बस में 35 से ज्यादा छात्र नहीं बैठेंगे. बसों में सुरक्षाकर्मी भी मौजूद हैं. कोटा पहुंचने के बाद बसों से आने वालों छात्रों को उनके इलाकों के अनुसार भेजा जाएगा. 

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए हुए लॉकडाउन के कारण राजस्थान के कोटा में फंसे उत्तर प्रदेश के सात हजार से अधिक छात्र-छात्राओं को वापस लाने के लिए योगी सरकार ने 200 बसें भेजी हैं. सरकार के इस कदम का स्वागत करते हुए समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने पूछा है कि वहां भुखमरी का शिकार हो रहे गरीबों के लिए क्या योजना है? राजस्थान के कोटा में इंजीनियरिंग व मेडिकल की कोचिंग करने वाले उत्तर प्रदेश के करीब 7500 छात्र फंसे हैं. छात्रों के अभिभावकों की मांग पर मुख्यमंत्री योगी ने वहां फंसे छात्रों को वापस लाने की कवायद शुरू की है. शुक्रवार को आगरा व झांसी से 200 से ज्यादा बसों को कोटा रवाना किया गया. शनिवार को ये बसें छात्रों को लेकर लौटेंगी.

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ़ दिनेश शर्मा ने कहा है कि निजी स्कूल लॉकडाउन की अवधि में अभिभावकों से कोई ट्रांसपोर्टेशन शुल्क नहीं वसूल सकेंगे. डॉ़ शर्मा ने शुक्रवार को जारी एक बयान में बताया कि इस समय स्कूलों में बस या ट्रांसपोर्टेशन सेवा का उपयोग नहीं हो रहा है. इसलिए स्कूल प्रबंधन अभिभावकों से ट्रांसपोर्टेशन शुल्क नहीं ले सकते. उन्होंने कहा कि सभी स्कूलों को तिमाही की जगह मासिक शुल्क लेने को कहा गया है. इसका आदेश पहले ही जारी कर दिया गया है.

कोरोना वायरस (Corona Virus) से बचाने के लिए लागू लॉकडाउन (Lockdown) कारण बंद सरकारी कार्यालय 20 अप्रैल से खुल जाएंगे. सरकारी कार्यालयों के खुलने से पहले प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं. दिशा-निर्देश में बताया गया है कि सरकारी कार्यालयों में किस तरह से सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखी जाए, जिसका सरकारी कामकाज पर असर भी न पड़े. मुख्य सचिव की तरफ से जारी निर्देशों के मुताबिक, सभी विभागों के विभागाध्यक्ष और समूह क और ख के सभी अधिकारी कार्यालय आएंगे. वहीं समूह ग और घ के कर्मचारियों के लिए रोस्टर तैयार किया जाएगा. इन समूह के 33 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति अनिवार्य होगी.

 

21 अप्रैल से हाई कोर्ट में महत्वपूर्ण मामलों की होगी सुनवाई शुरू. 20 तारीख को कॉजलिस्ट होगी तैयार. जिन वकीलों के हाईकोर्ट में चेंबर हैं उन्हीं के स्टाफ को आने की होगी अनुमति. कोर्ट परिसर के टी क्लब में बने वीसी रूम में बैठकर सुनवाई करेंगे हाई कोर्ट जज. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रकरणों की होगी सुनवाई. केस के संबंधित एडवोकेट्स को SMS या मेल के जरिए सूचना दी जाएगी.

 

ग्वालियर में जिला प्रशासन और राज्य आनंद संस्थान की अच्छी पहल. गांव से सब्जी खरीदकर सस्ते दामों पर बेचेगा जिला प्रशासन. खरीदने के बाद सब्जियों को धोया जाएगा उसके बाद बेचने के लिए भेजा जाएगा. जिला प्रशासन ने सब्जी के रेट किए तय. ठेले वालों से 30 से 40% रेट होंगे कम. आलू रुपए 20 , लौकी और कद्दू ₹10 किलो, तरबूज 17 प्याज 15 से 20रुपए. भिंडी और टमाटर 15 रुपए किलो बेचेगा प्रशासन.

 

कोरोना का सैंपल देने वाले लोगअब होम क्वारेंटाइन की जगह सरकारी क्वारेंटाइन में रहेंगे. प्रशासन को मिली थी लोगों के घूमने की शिकायत. घर में क्वॉरेंटाइन रहने की वजह कॉलोनी और सड़कों पर घूमते नजर आ रहे थे लोग. जिला प्रशासन ने दिया आदेश.

 

लॉकडाउन में दूध की डिमांड घटी तो दुग्ध उत्पादकों ने पांच से 10 रुपए सस्ता किया दूध. लेकिन सांची और अमूल जैसी कंपनियों के रेट में बदलाव नहीं. चाय की दुकान, हलवाई और मिठाई का कारोबार बंद होने से सस्ता हुआ दूध.

 

धार में एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला, पट्ठा चौपाटी निवासी 45 वर्षीय महिला निकली पॉजिटिव. धार भोज अस्पताल लेकर पहुची टीम, धार में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़कर हुई 11, जिला प्रशासन ने एरिया को कंटेंटमेंट एरिया घोषित किया.

मध्य प्रदेश : भिण्ड में लॉकडाउन में दिखा पुलिस का सख्त रुपलॉकडाउन में दिखा पुलिस का सख्त रुप, बंद के दौरन सड़क से गुजरने वाले बाइकर्स की गाड़ी तोड़ते पुलिस का वीडियो हुआ वायरल.

ग्वालियर ब्रेकिंग : सिंधिया समर्थकों को मंत्रिमंडल गठन की सूचना नहीं. तुलसी सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत , इमरती देवी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, महेंद्र सिंह सिसोदिया और प्रभुराम चौधरी को पहले मंत्रिमंडल गठन में ही शामिल कराना चाहते

कोरोना वायरस संक्रमण से अत्यधिक प्रभावित रांची के हिंदपीढ़ी इलाके के करीब आठ हजार घरों में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार को खाद्यान्न के पैकेट शुक्रवार को भेजे और कहा कि इस संक्रमण के खिलाफ सभी को मिलकर संघर्ष करना है.

झारखंड उच्च न्यायालय ने राज्य में कोविड-19 मरीजों की बढ़ती संख्या और अलग- अलग जिलों में संक्रमण फैलने पर चिंता जताते हुए इसे युद्ध जैसे हालात बताया और सरकार से पूछा है कि वह इससे निपटने के लिए कितनी तैयार है?

 

झारखंड में लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अब तक कुल 828 प्राथमिकी दर्ज कर अब तक 1,634 लोग गिरफ्तार किये गये हैं, जबकि राज्य में इस दौरान अफवाह और घृणा फैलाने के मामलों में भी 89 लोगों की गिरफ्तारी की गयी है.

 

औरंगाबाद और नवादा में दो जगहों पर अलग-अलग पक्षों के बीच हुई झड़प में एक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई जबकि 12 अन्य घायल हो गए.

 

बिहार में 20 अप्रैल के बाद लॉकडाउन के दौरान राष्ट्रीय और राजकीय राजमार्गों पर मालवाहक वाहनों के चालकों के भोजन के लिए ढाबा-होटल खुलेंगे. कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए आपदा प्रबंधन समूह की बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया.

 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए सामाजिक दूरी ही एकमात्र प्रभावी उपाय है.

Elgar case: Anand Teltumbde's NIA custody extended till Apr 25

Shah reviews lockdown situation, takes stock of supply of essential commodities

2020 An Immigration Odyssey

Rahul thanks govt for changing FDI norms after his warning

Ajaz Khan arrested for objectionable posts, videos

Light rains, gusty winds make Delhi weather pleasant

3 CRPF men killed in terrorist strike in JK's Sopore

Bihar minister slams Gehlot over suggestion to bring back Kota students

Slight decrease in number of COVID-19 cases in Delhi in last 3 days: CM Kejriwal

Sharjeel Imam chargesheeted for Jamia riots