ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
जल जीवन हरियाली का विरोध
November 28, 2019 • समस्तीपुर संवादाता पलटन साहनी की रिपोर्ट • NATIONAL

 

समस्तीपुर जिला हसनपुर प्रखंड अंतर्गत खरहिया गांव स्थित उत्क्रमित  मध्य विद्यालय खरहिया के प्रधानाध्यापक नहीं मानते हैं सरकार द्वारा चलाए गए जल जीवन हरियाली योजना को।


बता दें कि उत्क्रमित मध्य विद्यालय खरहिया इन्हें 12 शिक्षक एवं शिक्षिका पदस्थापित हैं छात्र छात्रा की बात करें तो नामांकन 306 है लेकिन उपस्थिति की बात करें तो बहुत कम है विद्यालय में पढ़ाई की बात करें तो भगवान भरोसे विद्यालय के छात्र छात्राओं को शिक्षा मिल रहा है विद्यालय में स्वच्छता अभियान को धज्जियां उड़ाई जा रही है विद्यालय के प्रधानाध्यापक एवं शिक्षक साफ-सफाई पर ध्यान नहीं देते रसोइया से मिली जानकारी में रसोइया ने बताया कि  जब से गैस कनेक्शन  लिया गया है तब से एक ही बार गैस पर मिड डे मील बनाया गया उसके बाद दोबारा आज तक विद्यालय में गैस नहीं लाया गया  बच्चे के लिए मिड डे मील वर्तमान में लकड़ी पर बनाया जा रहा है  मिड डे मील मैं भी लापरवाही बरती जा रही है
 वहीं पर विद्यालय की रूम की बात करो 12  रूम है पूर्व में सड़क के किनारे दो रूम की  विद्यालय आज अपने हालत विद्यालय तंदुरुस्त होने के बावजूद  विद्यालय में ताला लटकी हुई है  बंद पड़ी विद्यालय में वहां पर गाय भैंस का अड्डा बना हुआ है। जुए और ताश ग्रामीणों द्वारा खेला जा रहा है
विद्यालय के प्रधानाध्यापक एवं शिक्षक सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना को  नहीं मानता है पंचायत के मुखिया द्वारा  जल जीवन हरियाली योजना के तहत पानी का सोख्ता बनाने के लिए  विद्यालय कंपास में गड्ढा खोदा जिसका विरोध प्रधानाध्यापक हरेराम हरे राम महतो एवं उनके शिक्षक द्वारा विरोध किया गया जो कार्य अभी भी अधूरा पड़ा हुआ है।
 वहीं पर बात करें शिक्षा समिति  बैठक की तो कई वर्षों से नहीं हो रही है विद्यालय में शिक्षा समिति के अध्यक्ष एवं विद्यालय के शिक्षक के बीच में बैठक कभी नहीं हुई है ग्रामीणों ने बताया कि शिक्षा समिति के अध्यक्ष रिचा कुमारी समस्तीपुर में रहती है इसलिए बैठक नहीं हो पा रही है शायद इसी कारण से प्रधानाध्यापक एवं शिक्षक का मनमानी चल रही है बता दें कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक हरिराम  विद्यालय में उपस्थित नहीं होने के कारण  उनसे दूरभाष पर संपर्क किया गया लेकिन संपर्क नहीं होने के कारण उनकी उनकी पक्ष नहीं रखी गई विद्यालय के छत पर गंदगी का अंबार लगा हुआ है बाहर भी बच्चे द्वारा  घटिया किस्म के भोजन बनने से मध्यान भोजन फेका जा रहा है बाहर में सफाई नहीं होने से उस से दुर्गंध आ रहा है संक्रामक बीमारी फैल सकती है लोगों ने पूर्वत चल रहे पुराने विद्यालय में पढ़ाई करवाने की मांग जिला शिक्षा पदाधिकारी से की है स्थानीय लोगों ने  चल रहे  पूर्वत विद्यालय विद्यालय से छात्रों को अलग करने का विरोध किया है