ALL International NATIONAL State ADMINISTRATION Photo Gallery Economy Education/Science & Technology Environment & Agriculture Entertainment Sports
कश्मीर पर राहुल गांधी का डैमेज कंट्रोल
August 28, 2019 • Desk

 

कांग्रेस   के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के ताज़ा हालात को लेकर अपने बयान का इस्तेमाल करने पर पाकिस्तान को फटकार लगाई है.

राहुल ने कहा है कि पाकिस्तान को कश्मीर में दखल देने का कोई हक नहीं है. बता दें पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र  को एक चिट्ठी लिखी जिसमें उनके एक बयान का हवाला देते हुए कहा था कि राहुल गांधी ने भी माना है कि  'कश्मीर में लोग मर रहे हैं.'पाकिस्तान के इस कदम के बाद राहुल ने बुधवार को कहा कि 'मैं इस सरकार से कई मुद्दों पर असहमत हूं, लेकिन मैं यह पूरी तरह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा है और इसमें पाकिस्तान या किसी अन्य विदेशी देश की ओर से हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है.'
राहुल ने कहा कि 'जम्मू-कश्मीर में हिंसा हुई है, क्योंकि पाकिस्तान वहां लोगों को उकसा रहा और हिंसा फैला रहा है. पाकिस्तान को दुनिया भर में आतंकवाद का प्रमुख समर्थक माना जाता है.'

पाकिस्थान ने यूएन लिखी थी चिट्ठी
बता दें कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र को एक चिट्ठी लिखी थी, जिसमें भारत पर कश्मीर में हिंसा और मानवाधिकार उल्लंघन जैसे आरोप लगाए गए हैं. पाकिस्तान ने इस ख़त में इन दावों के सोर्स के रूप में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम भी लिखा है.  ख़त में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और PDP चीफ महबूबा मुफ़्ती समेत नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला का नाम भी शामिल है. बीते दिनों कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की मीटिंग के बाद राहुल ने कहा था, 'अभी तक जितनी भी जानकारी मिल सकी है उसके मुताबिक वहां (कश्मीर) गलत हो रहा है और लोग मारे जा रहे हैं.'
बता दें कि पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाने की लगातार कोशिश कर रहा है, लेकिन दुनिया के तमाम देशों से उसे मुंह की खानी पड़ रही है. G7 समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्पष्ट कर दिया कि पाकिस्तान के साथ उनके सभी मुद्दे द्विपक्षीय हैं और किसी तीसरे देश को इसमें हस्तक्षेप करने की ज़रूरत नहीं है.
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान  के अमेरिका दौरे के बाद से पाकिस्तान यह प्रचारित कर रहा था कि कश्मीर मामले पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  ने मध्यस्थता की पेशकश की है लेकिन पीएम मोदी और ट्रंप के बीच हुई इस वार्ता से पाकिस्तान की सारी उम्मीदों पर पानी फिर गया है.

राहुल ने एक दूसरे ट्वीट में लिखा कि जम्मू-कश्मीर में हिंसा है क्योंकि पाकिस्तान इसे समर्थन और बढ़ावा देता है। पूरी दुनिया में सब जानते हैं कि पाकिस्तान आतंकवाद का सबसे बड़ा समर्थक देश है।

पाकिस्तान की एक हरकत से कांग्रेस में खलबली मच गई है. दरअसल, पाकिस्तान ने कश्मीर मसले पर संयुक्त राष्ट्र में दिए अपने प्रस्ताव में राहुल गांधी के बयान का जिक्र किया है. इस पर कांग्रेस ने सफाई जारी की है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरेजवाला ने कहा कि पाकिस्तान ने राहुल गांधी के नाम का गलत इस्तेमाल किया, ताकि वह अपने झूठ को सही ठहरा सके. रणदीप सुरेजवाला ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से राहुल गांधी के बारे में गलत सूचना दी गई है. दुनिया में किसी को संदेह नहीं है कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख भारत के अभिन्न अंग हैं और हमेशा बने रहेंगे. पाकिस्तान की शैतानी से यह सच नहीं बदलेगा. इससे पहले राहुल गांधी ने कहा कि हम कश्मीर मसले पर मोदी सरकार के साथ हैं.

रणदीप सुरेजवाला के साथ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी जम्मू-कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बताया. शशि थरूर ने कहा कि हम अनुच्छेद 370 को हटाए जाने की प्रक्रिया के खिलाफ हैं. इससे हमारे संवैधानिक और लोकतांत्रिक मूल्यों का हनन हुआ है. पाकिस्तान को हमारे इस रुख से कोई फायदा उठाने की जरूरत नहीं है.बता दें, केंद्र की मोदी सरकार को हर मसले पर घेरने वाले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कश्मीर मसले पर सरकार का समर्थन किया है. उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा है कि कश्मीर भारत का आंतरिक मसला है और पाकिस्तान या फिर किसी अन्य देश को इस मामले में हस्तक्षेप करने नहीं दिया जाएगा.